Valentine’s Day 2020,Valentine images-messages Shayri

2
656

Valentine’s Day 2020,Valentine images-messages Shayri

Valentine’s Day is a yearly celebration to praise sentimental love, companionship, and esteem. Consistently on fourteenth February individuals praise this day by sending messages of adoration and love to accomplices, family, and companions.

The act of sending love messages formed into individuals sending an uncommon card communicating their warmth. Valentine’s Day doesn’t need to be about sentimental love. Valentine’s Day can be tied in with commending the adoration forever, the affection for self, the affection for a higher force, the adoration for your locale it tends to be anything you wish.



 

Love is a four-letter word that comes in all shapes and sizes in the words we address close a call, in the resolute hours we put resources into our interests, and in the heart-formed emoticons, rose ring our fingers rapidly kind of companions. Love will be Love.

It’s seen in numerous snapshots of our lives and each February we get a whole day committed to reminding those important to us of this four-letter word. Regardless of whether you are making a note for a companion, a relative or an accomplice, valentine’s day statements will assist you with beginning and may even rouse you.

 

 

In spite of the fact that we express how we feel pretty much every other day of the year, on Valentine’s Day, it is in every case progressively hard to write sentiments down. Before you start composing your sincere valentine’s message consider the individual you are writing to so its Valentine’s Day Quotes help you to communicate your emotions and love to your sweethearts, lady friends, guardians, closest companions, and your family.

While Valentine’s Day is joined with heaps of affection and bliss and

it’s 7 Special Days:

 

 

7th Feb – Rose Day
8th Feb – Propose Day
9th Feb – Chocolate Day
10th Feb – Teddy Day
11th Feb – Promise Day
12th Feb – Kiss Day
13th Feb – Hug Day
14th Feb – Valentine’s Day

 

अब आएं या आएं इधर पूछते चलो

क्या चाहती है उनकी नज़र पूछते चलो

हम से अगर है तर्कताल्लुक तो क्या हुआ

यारो कोई तो उनकी ख़बर पूछते चलो।

 

फ़िज़ा में महकती शाम हो तुम

प्यार में झलकता जाम हो तुम

सीने में छुपाये फिरते हैं चाहत तुम्हारी

तभी तो मेरी ज़िंदगी का दूसरा नाम हो तुम।

 

मत चला मुझपर अपनी जुबान की बर्छिया,

जो इश्क़ है तो लहज़े को ज़रा मासूम कर…..

 

इश्क के रिश्ते कितने अजीब होते है?

दूर रहकर भी कितने करीब होते है

मेरी बर्बादी का गम न करो

ये तो अपने अपने नसीब होते हैं

 

वो खुद पर गरूर करते है

तो इसमें हैरत की कोई बात नहीं

जिन्हें हम चाहते है

वो आम हो ही नहीं सकते

 

गर मैं हद से गुज़र जाऊं तो मुझे माफ़ करना

तेरे दिल में उतर जाऊं तो मुझे माफ़ करना

रात में तुझे तेरे दीदार की खातिर

अगर मैं सब कुछ भूल जाऊं तो मुझे माफ़ करना।

 

 

*हवा की तरह होती है मुसीबतें भी,*

 

*कितनी भी खिडकिया बंद कर लो अंदर आ ही जाती है !!*

 

 

 

किसी को उजाड़ कर बसे तो क्या बसे*

 

*किसी को रुला कर हंसे तो क्या हंसे*

 

अब रिहा कर दो अपने “ख्यालो” से मुझे ……..!!!*

 

 

 

*लोग सवाल करने लगे हैं*

*कि कहाँ रहते हो आज कल..!!!!*💘

 

 

जहाँ कदर न हो अपनी वहाँ जाना फ़िज़ूल है*,

*चाहे किसी का घर हो चाहे किसी का दिल*।

 

*हम उनसे तो लड़ लेंगे,जो खुले आम दुश्मनी करते हैं..*

*लेकिन उनका क्या करे,जो लोग मुस्कुरा के दर्द देते हैं…!* 🌹

 

 

 

..ना कम होगा !!

ना खतम होगा 💝

… ये प्यार है जनाब !!

हर पल होगा 😘

 

 

मैं पा तो लूँ जहाँ भर की खुशियाँ,,,,,

पर उससे तेरी कमी कहाँ पूरी होती है,,,,,,

 

 

 

*आपको Miss करना रोज़ की बात है,*👈

*आपको याद करना आदत की बात है,*😍

*आप से दूर रहना उल्फत की बात है,*😇

*मगर आप जैसे दोस्त पाना किस्मत की बात है…*🌹🌹🤝🏻🤝🏻

 

💞तेरा खयाल भी है,*

*क्या गजब…*

*ना आए तो आफत, जो आ जाए तो कयामत…*

 

नही आता तेरी मोहब्बत को छिपाना मुझे 💕*

 

*तेरी खुशबू मेरी हर शायरी मे बसा करती है !!💕*

 

अब रिहा कर दो अपने “ख्यालो” से मुझे ……..!!!*

*लोग सवाल करने लगे हैं*

*कि कहाँ रहते हो आज कल..!!!!*💘

 

रख लो दिल में संभाल कर थोड़ी सी यादें हमारी,*

*रह जाओगे जब तन्हा…बहुत काम आयेंगे हम।*

 

“एक खिलौना ही तो हूँ मैं आपके हाथों का,*

*रुठते तुम हो* ………… *और टूटता मैं हूँ !*!”💞

 

 


इतनी सी ज़िंदगी हैं पर ख़्वाब बहुत हैं..*

*जुर्म का तो पता नहीं पर इल्ज़ाम बहुत हैं..*

 

“दिल से शायरी करना भी कोई मामूली बात नही है दोस्तों..*

*जितनी गहरी “आह” होगी उतनी ही ज्यादा ‘वाह’ होगी…”*💞

 

ओस की बूंद सा है जिंदगी का सफर..*

*कभी फूल में तो कभी धूल में…!!*🌹

 

कहीं पर भी लिखा नहिं की*

*इश्क सिर्फ जवानी में ही होता है*

*लेकिन ये जब भी होता है,*

 *इन्सान जवान जरूर हो जाता है…*

 

 

*जो रिश्ते सच में गहरे होते हैं वो कभी अपनेपन का शोर नहीं मचाते…*,

*सच्चे रिश्ते शब्दों से नहीं दिल और आंखो से बात करते हैं..*, I

 

 

*”ऐ .. मौसम .”..*

*चाहे तू जितना भी बदल ले*

*इंसान से ज्यादा बदलने का हुनर*

*तेरे पास नहीं है… !*

 

*मुद्दतों बाद, लौटे थे उनके शहर में….*

*एक बस उनके सिवा, और कुछ भी वहाँ बदला नहीं है….!!!!*

 

 

*दो जहाँ के बीच फ़र्क़..*

*एक सांस का..*

*चल रही है तो यहाँ और..*

*रुक गयी…..तो वहाँ !*

 

 

*उनके साथ के आगे जन्नत कुछ भी नहीं*

*और उनके साथ के सिवा मेरी कोई मन्नत भी नहीं !!*

 

*वक्त की धारा में .. अच्छे अच्छों को ~~ मजबूर होता देखा है .. !!!*

*कर सको..तो किसी को खुश करो…दुःख देते …हुए….तो हजारों को देखा है ।।।*

 

 

सुलझ ही न पाये आपकी नजरो के सवालात हमसे,,,*

यूँ भी गणित में हम पहले से ही कमजोर बहुत थे…!!*

 

 

*हमारा अंदाज़ कुछ ऐसा है,*

 

*जब “हम” बोलते है तो “बरस” जाते है,*

*और जब हम “चुप” रहते है तो लोग “तरस” जाते है…!!*

 

कौन सी “यादें”💕*

*कौन सी “बातें”*

*कौन सा “राज़” हो “आप”💕*

*मेरी “साँस” मेरी “सोच” “हो आप”*

*”आँखों” के पास नहीं ना सही*

*मगर “दिल” के बहुत पास”हो आप “*

 

पहचान कफ़न से नहीं होती है*

*दोस्तो*

*लाश के पीछे काफिला बयां कर* *देता है*

*रूतबा किसी हस्ती का है*

 

 

 

ल साफ़ करके मुलाक़ात की आदत डालो,*

*धूल हटती है तो आईने भी चमक उठते हैं।*

 

नही आता तेरी मोहब्बत को छिपाना मुझे 💕*

*तेरी खुशबू मेरी हर शायरी मे बसा करती है !!💕*

 

ना किसी जिगर की तलाश है ना किसी के दर की तलाश है*

*मेरे दिल का हाल जो जान ले मुझे उस नज़र की तलाश है 💞💞*

 

 

तुमसे तकरार करके,,,,,

तुमसे ही बात करने का मन,,

ये दिल का सिलसिला भी,,,

कभी ना समझ पाये हम,,

 

एक बात बोलूं –

कुछ यादें कुछ बातें, कुछ लोग और उनसे बने रिश्ते,

कभी भुलाए नहीं जा सकते।

 

 

बहुत दिनों बाद उसे देखा…

दिल नहीं भरा पर आँखें भर आईं….

 

ज़रा सी दोस्ती कर ले..

ज़रा सा हम नशी बन जा*💞💞💞💞🌹

*थोडा तो साथ दे मेरा …

फिर चाहे अजनबी बन जा*💞💞💞💞💞

 

 

*💖साथ बिताई….. तेरे संग… वो शाम ……सुहानी जिंदा है …..*

*होंठ भले सूखे हो… फिर भी, ……आँख मे पानी जिंदा है….*❤❤💖

 

जिसको चढ़ जाय तेरे हसरत-ए-मोहब्बत का नशा..

फिर जहाँ में क्या नशा ? कैसा नशा ? किसका नशा..??

 

बांध दो कोई धागा नजरे उल्फत का,

बेपनाह मोहब्बत है आपसे कोई नजर ना लगा दे।।

 

“लिखी शायरी कुछ ऐसी तेरे नाम की..

जिसने तुझे देखा नही वो भी बेमिसाल कहने लगे ..!!”

 

जुड़ा हूं तुझसे ,तुझ में ही गुम हो जाऊँ ।

ढूँढे मुझे जमाना,तुझमे ही खो जाऊँ ।।

पलकें बन्द कर ,छुपा ले कहीं मुझको ।

देखे तू आईना,तेरी आंखों मे नज़र आऊँ ।

 

तुम्हें सोच कर सोना;

तुम्हें सोच कर उठ जाना…!!

कितना आसान हैं ना,,,,

तुम्हारा कुछ न होकर भी;

तुम्हारा ही रहना,,,,

 

ज़िंदगी

जीने के लिये क्या चाहिए .💕

सिर्फ 💞

एक शख्स जो

आपसे ज्यादा आपका हो .💕

💕💕अगर कभी उदास हो जाओ तो मेरे हँसी मांग लेना💓💕,

💕💕अगर कभी कोई गम आपके पास आये तो मेरी ख़ुशी मांग लेना,💕

💕💕खुदा आपको लम्बी उम्र दे जीने के लिए,

💕💕अगर एक पल भी कम पड़े तो मेरी मेरी जिंदगी मांग लेना❤❤❤❤❤❤❤

 

जो रिश्ते सच में गहरे होते हैं वो कभी अपनेपन का शोर नहीं मचाते…*,

*सच्चे रिश्ते शब्दों से नहीं दिल और आंखो से बात करते हैं..*, I

 

*ओस की बूंद सा है जिंदगी का सफर..*

 

*कभी फूल में तो कभी धूल में…!!*🌹

 

*कहीं पर भी लिखा नहिं की*

*इश्क सिर्फ जवानी में ही होता है*

*लेकिन ये जब भी होता है,* *इन्सान जवान जरूर हो जाता है…*

 

*दो जहाँ के बीच फ़र्क़..*

*एक सांस का..*

*चल रही है तो यहाँ और..*

*रुक गयी…..तो वहाँ !*

 

*कौन सी “यादें”💕*

*कौन सी “बातें”*

*कौन सा “राज़” हो “आप”💕*

 

*मेरी “साँस” मेरी “सोच” “हो आप”*

*”आँखों” के पास नहीं ना सही*

*मगर “दिल” 💕के बहुत पास”हो आप “💕*

 

मीठा सा होता है…सफ़र यह ज़िंदगी का…

🌷🍃

बस कड़वाहट तो…किसी से ज़्यादा उम्मीदें रखने से होती हैं…

 

तुमसे बढ़कर कौन

दुनिया में मेरे नज़दीक है

 

इक तुम्हीं तो हो के

जिसका दिल दुखा सकता हूँ मैं

 

तेरे साथ के आगे जन्नत कुछ भी नहीं,

और तेरे साथ के

सिवा मेरी💗 कोई मन्नत भी नहीं !!💞💖💓

 

वैलेंटाइन डे आ रहा है तो सोच रहा हूं दूसरी girlfriend बना लूं 🙂

 

क्यूंकि पहली तो बन नहीं रही😕😕🤣🤣🤣❤

 

अब कोई शिकवा ना गिला ना कोई मलाल रहा

सितम तेरे भी बेहिसाब रहे सब्र मेरा भी कमाल रहा

 

गुल से लिपटी हुई तितली को, गिरा कर देखो 💕

आँधियों तुम ने दरख़्तों को, गिराया होगा…

…कभी यूँ भी तो हो..और तुम आओ….

 

*दोनों खुद्दार थे इतने कि ख़ामोशी का सबब,,,,!!*

*उसने पूछा भी नहीं मैंने बताया भी नहीं….!!*

 

“कहाँ” से लाऊ…रोज रोज नई “शायरी”……*

*छोटा सा “दिल” है…वो भी आजकल आप के “ख्यालो” में खोया रहता है……💘*

 

 

 

स्कुराहट किसी की दर्द छुपा लेती कभी

गम से मुरझाई फजा दिल की खिला दी जाए।

 

अधूरी है ख्वाइश , सिमट रही है जनवरी,*

*खड़ी है चौखट पे, इश्क वालो की फरवरी…*💞

 

*वैसे ही दिन, वैसी ही रातें, वही रोज़ का फ़साना लगता है*…!

*अभी चार दिन नहीं गुज़रे, साल अभी से पुराना लगता है*…!!

 

🌹मोहब्बत खुद बताती है कहां किसका ठिकाना है……..

किसे आॅखों में रखना है किसे दिल में बसाना है……..🌹

 

*खुशी के फूल*

*उन्हीं के दिलों में खिलते हैं,*

*जो अपनों से*

*अपनों की तरह मिलते हैं*

 

नजरें

तलाशती हैं जिसको,, 💕

वो प्यारा सा ख़्वाब हो तुम…

मिलती है दुनिया सारी…💕

ना मिलकर भी

लाजवाब हो तुम…💕💘❤

 

एहसासों की नमी बेहद जरुरी है हर रिश्ते में,*

*रेत भी सूखी हो तो हाथों से फिसल जाती है।*

 

खामोशियो में क्यो है ये सारा जहां

…में सोया हुआ हूं या सो गया हूं…

💞💞💞आबिद💞💞💞

 

नादान जरा खुद से पूछ कर देख

..आग मेरे शहर में लगी है क्यो..

💞💞💞आबिद💞💞💞

 

Dil se dua hai tumko

Hamesha khush rehna tum

Tum mere dost hi nhn

Rab ki di hui anmol thofa hu tum…😘

 

तुम बखूब जानते हो मेरी तन्हाई का आलम

पूछकर लोगो से मोहब्बत की तौहीन ना कर

💞💞💞आबिद💞💞💞

[

 

तेरे सिवा हम किसी और के कैसे हो सकते है*

*तू खुद ही सोच के बता..*

*….तेरे जैसा कोई और है क्या…*

 

*सजा तो बहुत दी है जिदगी ने ……*

*पर कसुर क्या था मेरा यह नही बताया*

 

जो इंसान आँसुओ का दर्द समझता है,

वो दुसरो को आँसु कभी नही देता।😭 💔 😢

 

*मिलते 💕रहना सबसे.💕.*

*किसी ना किसी 💕बहाने से…*

 

*रिश्ते मजबूत 💕बनते हैं💕*

*दो पल साथ बिताने से..!💕💕!*

 

*चाहत तो हम भी रखते हैं,*

*किसी के दिल में हम भी धड़कते हैं,*

*न जाने वो कब मिलेंगे जिन के लिए हम रोज़ तड़पते हैं.*

 

 

दुआ करो, मैं कोई रास्ता निकाल सकूँ..*

*तुम्हें भी देख सकूँ, खुद को भी सम्भाल सकूँ..!*

 

माना की दुनियां बढ़ सी गयी है लेकिन, तेरे हिस्से का समय अब भी तनहा ही गुज़रता है

 

“अजीब सी पहेली है, इन हाथों की लकीरों में,*

*सफ़र लिखा है ,मगर, रास्ता नहीं लिखा ….!!! “*

 

 

फ़ासलों को ही जुदाई न समझ लेना तुम;

थाम कर हाथ यहाँ लोग जुदा बैठे हैं

 

🌹बात बात में हर बात में तेरी बात का आ जाना……..

अच्छा लगता है यूं तेरा दिलों दिमाग पे छा जाना……..🏻

 

*कभी कभी धागे बड़े कमज़ोर चुन लेता है”राही”*

*और फिर पूरी उम्र गाँठ बाँधने में ही निकल जाती है*

 

*तुम्हारे दूर ….रहने से हमें तकलीफ होती है,….*

*आज इतना करीब आ जाओ …….की हम बहक जाये….💞*

 

इश्क़ में हमने वही किया जो फूल करते हैं बहारों में..​..*

*खामोशी से खिले, महके और फिर बिखर गए….!!!!*

 

 

 


 

सोचा था बताएंगे

हर एक दर्द तुमको

लेकिन तुमने तो इतना भी न पूँछा

की खामोश क्यों हो🐿

 

जिंदगी बड़ी अजीब सी हो गयी है जो मुसाफिर थे

वो रास नहीं आये जिन्हें चाहा वो साथ नहीं आये🐿

 

मोहब्बत थी और हैं

मैं कोई वादा थोड़ी जो बदल जाऊं🐿

 

खूबसूरत है वो लब……जिन पर,

दूसरों के लिए कोई दुआ आ जाए!!

 

खूबसूरत है वो दिल जो किसी के,

दुख मे शामिल हो जाए !

 

 

 

*बिना रिश्ते के जो अजनबी*

*अपने हो जाते हैं,*

*कभी-कभी खून के रिश्तों से*

*बड़े हो जाते हैं !*

 

*किसी को उजाड़ कर बसे तो क्या बसे*

*किसी को रुला कर हंसे तो क्या हंसे*

 

*किसी न किसी को किसी पर एतवार हो जाता है,

एक अजनबी सा चेहरा ही यार हो जाता है,

खूबियों से ही नही होती मोहब्बत सदा,

किसी की कमियों से भी कभी प्यार हो जाता है*

 

अगर तुम्हें यकीं नहीं, तो कहने को कुछ नहीं मेरे पास..*

*अगर तुम्हें यकीं है, तो मुझे कुछ कहने की जरूरत नही..*

 

 

 

 

बस इतना ही कहा था

कि बरसो के प्यासे हैं हम

उसने अपने होठों पे होंठ रख के

हमे खामोश कर दिया🌹

 

तेरे हर ग़म को अपनी रूह में उतार लूँ

ज़िंदगी अपनी तेरी चाहत में सवार लूँ

मुलाक़ात हो तुझसे कुछ इस तरह मेरी

सारी उम्र बस एक मुलाक़ात में गुज़ार लूँ।🌹

 

ज़रा तलाश तो करो मरे प्यार को अपने दिल में,

अगर थोडा दर्द हो तो समज लेना के मोहब्बत अभी ज़िंदा हे.

 

दुःख में ख़ुशी की वजह बनती है मोहब्बत

दर्द में यादों की वजह बनती है मोहब्बत

जब कुछ भी अच्छा ना लगे हमें दुनिया में

तब हमारे जीने की वजह बनती है मोहब्बत।

You May Like ALso Khatm Hua 




 

फ़िज़ा में महकती शाम हो तुम

प्यार में झलकता जाम हो तुम

सीने में छुपाये फिरते हैं चाहत तुम्हारी

तभी तो मेरी ज़िंदगी का दूसरा नाम हो तुम।🌹

 

🍒😭💔👈🏼 Aisa Na Ho Mein Apna Vazudh Hi jala lu ….

😭💔👈🏼 Teri Yaadho ka Chirag Jalate Jalate Yaar….😭💔👈🏼

 

🍒💔😭👈🏼 Shiddat Eh Nahi Dekhta ,

🍒 Mehbub pather ka Hai Ya kohinur ka Yaar..

..💔😭👈🏼

 

🍒💔😭👈🏼 Arsse ki badh Tumne Apni Dp lagai Hai….

🍒 Dekhna Ishq ke Mazdur Ab Tumari Taariffo ke pul Band Dege yaar….💔😭👈🏼

 

🍒😭💔👈🏼 Aaina kab Tak Dekhoge….

🍒 Daag Character par Hai , Surat par Nahi , Yakeen kro Mera Yaar…😭💔👈🏼

 

🍒😭💔👈🏼 Ohh Mausam , Chahe Tu Jitna Marzi Badal Za .

🍒 par Mere Dost Se Zyada Badalne ka Hunar Nahi Tere pass Yaar..😭💔👈🏼

 

Mein Tumhe follow kar Rehi Hu , likhte huye Milo Dur Se Bhi .

😭💔👈🏼 Orr Tum like Tak Nahi De Rehe….Online Hokar Itne karib Se yaar….😭💔👈🏼

 

Nari kafi Had tak Narayan Jaisi Hai ..

😭💔👈🏼 jisse Dekhte Hi Narad muni jaise purush To Narayan Narayan Bolne lagte Hai Yaar..😭💔👈🏼

 

😭💔👈🏼 Shukar Mann ki Maine Tuzse Mulaqat Nahi ki , Varna Tere Dil To kya Tere khuda ko Bhi Tere khillaff kar Deti ….

 

😭💔👈🏼 I Hate Love , No Love , No Boyfriend , No Tension yaar….😭💔👈🏼

😭💔👈🏼 khatta ye hui , tumhe khud Sa Samaz Badhi ….

😭💔👈🏼 Magar Tum Sirf Tum Hi Thy yaar…😭💔👈🏼

 

😭💔👈🏼 Wafa ki Jis Manjil par Tumne Mera Sath Chora Hai..

😭💔👈🏼 khuda karre Uske Aage Tuze Na Manjil Mile Na Raasta Bas Maffi ke liye Sirf Mere Naam Ka Vasta Yaar…😭💔👈🏼

 

🍒💔😭👈🏼 Dil ko choo zatti hai ….

🍒 Ek Tum Or Ek Tumari Berukhi yaar…💔😭👈🏼

 

🍒💔😭👈🏼 Mehkene lagegi Tumari Rooh …

🍒 Hum Bina Choohe Tumhe ,Alfazo ke phoolo Se Saza Dege Yaar…😭💔👈🏼

 

 

 

 

🍒💔😭👈🏼 Mana ki Humsafar nhi Ban Sakte Hum Tumare ,or Tum Humare…

🍒 Magar koi Safar Aisa Batao ,Jaha Tere Mere Dil Ek Sath Na Chale Ho Yaar…😭💔👈🏼

 

🍒💔😭👈🏼 Usne itni khubsurti Se Fareb Diya Hai Muze….

🍒 Ab khuda Se Dua kar Rehi Hu….Tohffe Mein Vahi Tohffa Dena Usse ..😭💔👈🏼

 

🍒💔😭👈🏼 Baato ka khel tha Sahib ….

🍒 Vo kuch Suna Na Sake…Or Hum Sunkar Bhi khel Na Sake Yaar…💔😭👈🏼

 

 

🍒💔😭👈🏼 Nazero ka khel tha Sahib …

🍒 Aakhir kis kis Se Milate….Kis kis Se Churaette yaar…😭💔👈🏼

 

बेताब आँखे…बेचैन दिल..!

बेपरवाह साँसे…

बेबस ज़िन्दगी…

बेहाल हम…बेखबर तुम…!!










 

 

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here